google doodle celebrate 112th birthday indian scientist kamala sohonie who discovered protein in legumes know all details


Google Doodle आज डॉक्टर कमला सोहोनी को याद कर रहा है। आज उनका 112 वां जन्मदिन है। कमला सोहोनी को भारतीय बायोकेमिस्ट के रूप में जाना जाता है जिन्होंने विज्ञान की दुनिया में महिलाओं के लिए राह बनाई। 18 जून 1911 को मध्य प्रदेश के इंदौर में जन्मीं कमला सोहोनी का परिवार शुरू से ही केमिस्टों का परिवार रहा है। अपने पिता और चाचा के नक्शे कदम पर चलते हुए कमला सोहोनी ने बॉम्बे यूनिवर्सिटी से केमिस्ट्री और फिजिक्स में पढ़ाई की। 1933 में उन्होंने अपने कोर्स में यूनिवर्सिटी में टॉप पोजीशन हासिल की। 

डॉक्टर कमला सोहोनी पहली ऐसी महिला थीं जिन्हें इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस (IISc) में एडमिशन मिला था। इसी के साथ उन्होंने साइंस की दुनिया में महिलाओं की एंट्री करवाई। उस समय महिलाओं की स्थिति पढ़ाई और विकास के क्षेत्र में बहुत अच्छी नहीं थी। महिलाओँ पर कई तरह के कड़े बंधन लगाए गए थे। विज्ञान के क्षेत्र में उनकी क्षमता पर भरोसा नहीं किया जाता था। लेकिन कमला सोहोनी ने इन सभी विचारधाराओँ को गलत साबित किया। अपने दृढ़ निश्चय और समर्पण के बल पर उन्होंने इन सभी बंधनों को तोड़ा। उनकी सफलता के बाद इंस्टीट्यूट में अन्य महिलाओं को भी दाखिला मिलना शुरू हो गया। 

Google के अनुसार, पढ़ाई के दौरान कुछ सालों तक उन्होंने दालों में पाए जाने वाले प्रोटीन के बारे में गहन शोध किया। पोषण में उनका क्या योगदान है, इस पर रिसर्च की। खासतौर पर बच्चों के पोषण के बारे में उन्होंने शोध किया। उनकी खोज ने पोषण में दालों के महत्व के बारे में सिद्ध किया। अपनी इस थिसिस के पूरा करने के साथ ही उन्होंने 1936 में मास्टर डिग्री हासिल की। 

अब यहां से उनकी आगे की यात्रा शुरू हुई, जब 1937 में उन्हें कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी से रिसर्च स्कॉलरशिप मिली। यहां पर उन्होंने एक क्रांतिकारी खोज की। कमला सोहोनी ने Cytochrome C के बारे में पता लगाया और इस पर अध्य्यन किया। यह एक ऐसा एंजाइम है जो ऊर्जा पैदा करने के लिए बहुत ही जरूरी है। यह पौधों की कोशिकाओं में पाया जाता है। 14 महीने के अंदर ही उन्होंने इस पर अपनी थिसिस पूरी कर ली और इसी के साथ Ph.D की डिग्री हासिल कर ली। 

भारत लौटने के बाद उन्होंने शोध जारी रखा और विभिन्न खाद्य पदार्थों के पोषक गुणों को स्टडी किया। उन्हें राष्ट्रपति सम्मान से नवाजा गया। साथ ही एक और उपलब्धि उन्हें मिली। कमला सोहोनी बॉम्बे के Royal Institute of Science की पहली महिला निदेशक के रूप में चुनी गईं। उनके इन सभी योगदानों के लिए गूगल ने आज उन्हें 112वें जन्मदिन पर याद किया है। 

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

संबंधित ख़बरें



Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *